एसपी नीरज कुमार जादौन हर रोज कार्यालय पर सुनते हैं पीड़ितों की फरियाद होती है त्वरित कार्यवाही।

तनवीर अंसारी

बिजनौर। पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन द्वारा हर रोज पुलिस कार्यालय में की जा रही जनसुनवाई व उनके द्वारा की जा रही निष्पक्ष कार्रवाई के बिजनौर वासी कायल हो गये हैं। एसपी द्वारा हर रोज अपने कार्यालय पर जनपद भर से आये पीड़ितों की फरियाद सुनी जाती है। यहां तक की एसपी नीरज कुमार जादौन संबंधित थाना अध्यक्ष से पीड़ित द्वारा की गई शिकायत का स्पष्टीकरण भी मांग लेते हैं। एसपी नीरज कुमार जादौन द्वारा कई पुलिसकर्मियों के खिलाफ अलग-अलग मामलों में लापरवाही बरतने को लेकर कार्रवाई भी की जा रही है। वही फरियादियों का कहना है कि एसपी साहब सभी की बात सुनते हैं तथा त्वरित इंसाफ दिलाने का काम करते हैं। पीड़ितों का कहना है कि हम लोग रोते हुए जाते है, पर वहां कप्तान साहब से मिलने के बाद हंसते हुए वापस आते हैं।

पीड़ित बोले एसपी नीरज कुमार जादौन बारी-बारी से सुनते है फरियाद।

एसपी नीरज कुमार जादौन प्रत्येक पीड़ित की समस्या अथवा पीड़ा को बारी-बारी से तसल्ली पूर्वक सुनते हैं और त्वरित न्याय दिलाते है साथ ही उनके द्वारा संबंधित थाना पुलिस की क्लास भी लगाई जाती है, और उन्हें थाना कोतवाली स्तर पर ही पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए निर्देशित किया जाता है। पुलिस अधीक्षक द्वारा प्राप्त शिकायतों के संबंध में मौके पर जाकर शिकायतों की तत्काल निष्पक्ष जांच कर विधिक निस्तारण सुनिश्चित करने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया जाता है। वहीं आमजन के आपसी विवादों में समस्याओं पर पुलिस कार्रवाई से संबंधित शिकायतों पर कार्यवाही करने के उद्देश्य से एसपी नीरज कुमार जादौन के कार्यालय में पीड़ितों को इंसाफ दिलाया जा रहा है। इस दौरान रोजाना 80 से 100 पीड़ितों द्वारा रखी गई शिकायतों पर पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन संबंधित अधिकारियों को तत्परता से कार्रवाई करने तथा शिकायतों का शीघ्र निपटारा करने के साथ-साथ कई मामले को अपने विवेक से निपटाने का काम कर रहे हैं। इससे समाज में पुलिस के प्रति एक अच्छा संदेश जा रहा है।

एसपी नीरज कुमार जादौन के कार्यकाल में फर्जी मुकदमों पर लगी पाबंदी।

युवा कप्तान नीरज कुमार जादौन के अब तक के कार्यकाल में फर्जी मुकदमों पर पूर्ण रूप से अंकुश लग गया है। ज्यादातर थानों में दलालों की एंट्री पर भी पाबंदी लग गई है। साथ ही एसपी नीरज कुमार जादौन द्वारा पिछले काफी समय से तैनात थानाध्यक्षों के कार्य क्षेत्र में भी फेरबदल कर जनपद की कानून व्यवस्था को और भी चुस्त-दुरुस्त किया जा रहा है। वही पिछले काफी समय से कई थानों में तैनात थानाध्यक्ष भी अब ईमानदार एसपी नीरज कुमार जादौन से अपनी दाल गलती ना देख अपने राजनीतिक आकाओं की शरण में जाने को मजबूर हो रहे हैं। अब देखना यह होगा कि उन राजनीतिक आकाओं की शरण में पहुंचकर एसपी पर दबाव बनाने वाले थानाध्यक्षों पर एसपी नीरज कुमार जादौन द्वारा क्या कार्रवाई की जाती है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *