30 नवंबर तक सड़कों को गड्ढा मुक्त ना कर पाने वाले अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्रवाई। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी

तनवीर अंसारी

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि 30 नवंबर तक सड़कों को गड्ढा मुक्त करें अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सचिवालय में लोक निर्माण विभाग की बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि 30 नवम्बर तक सड़कों को पूर्ण रूप से गड्ढा मुक्त बनाया जाए। सचिव लोक निर्माण विभाग एवं अन्य सर्कल ऑफिसर सड़कों का स्थलीय निरीक्षण करें। मुख्यमंत्री धामी ने निर्देश दिए कि निर्धारित समयावधि में सड़कों के गड्ढा मुक्त न होने की स्थिति में और कार्यों के प्रति किसी भी प्रकार की लापरवाही पर संबंधित अधिकारियों को तत्काल निलंबित किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि स्मार्ट सिटी व आतंरिक सड़क मार्गों के कार्यों में भी युद्धस्तर पर कार्य किये जाएं। शहर में सड़कों के निर्माण कार्य रात्रि के समय तेजी से किये जाएं। उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि जो भी सड़कें बनाई जा रही है, उनमें गुणवत्तापूर्वक कार्य हो, इसकी निगरानी के लिए सचिव लोक निर्माण विभाग को नोडल अधिकारी बनाया जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून में ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट और आपदा प्रबंधन पर 6 वीं अंतर्राष्ट्रीय कांग्रेस दो बड़े आयोजन होने हैं इसके दृष्टिगत भी सभी तैयारियां समय पर पूर्ण कर ली जाए। मुख्यमंत्री ने बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिए कि सिलक्यारा उत्तरकाशी में निर्माणाधीन सुरंग में फंसे श्रमिकों के रेस्क्यू ऑपरेशन में लगी एजेंसियों को हर संभव मदद दी जाए। श्रमिकों के परिजनों से भी निरंतर समन्वय स्थापित कर उन्हें हर संभव सहायता उपलब्ध कराई जाए। बैठक में अपर मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी, सचिव डॉ पंकज कुमार पाण्डेय, अपर सचिव विनीत कुमार, नगर आयुक्त देहरादून मनुज गोयल एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारी उपस्थित रहे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *