Bhai Dooj 2023

भाई दूज, जिसे भाईया दूज भी कहा जाता है, एक हिन्दू पर्व है जो भारतीय सामाजिक सांस्कृतिक तिथियों में से एक है। यह पर्व भाई-बहन के प्रेम और समर्पण को मनाने का अवसर प्रदान करता है। भाई दूज का आयोजन कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की द्वादशी तिथि को होता है, जो वर्ष के कुछ समय अक्टूबर और नवम्बर के बीच पड़ता है।

भाई दूज के महत्वपूर्ण पौराणिक कथा हैं, जो इस पर्व की उत्पत्ति को सारांशित करती हैं। एक प्रमुख कथा के अनुसार, देवी यमुना अपने भाई यमराज का स्वागत करने के लिए बहन के घर में गई थी। उसका आगमन उत्साह और आनंद के साथ हुआ था, और उसे भगवान विष्णु ने आशीर्वाद दिया था कि जब तक उसकी बहन उसे तिलक नहीं लगाती, तब तक यह पर्व चलता रहेगा। इसलिए, भाई दूज पर बहनें अपने भाइयों को तिलक लगाती हैं और उनकी रक्षा करती हैं।

यह पर्व भाई-बहन के प्यार और समर्पण को महत्वपूर्णता देता है और इसे समृद्धि और खुशियों का संकेत माना जाता है। भाई दूज के दिन पर बहनें अपने भाइयों के लिए प्रार्थनाएं करती हैं और उन्हें विशेष रूप से तैयार किए गए भोजन के साथ खुश करती हैं।

भारतीय समाज में भाई दूज एक परम्परागत त्योहार है जो परिवार के सदस्यों को एक-दूसरे के साथ मिलने और बंधन बनाए रखने का अवसर प्रदान करता है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *