गुलदार ने 13 वर्षीय बालक को बनाया अपना निवाला।

रेंजर प्रदीप शर्मा के नेतृत्व में वन विभाग की टीम ने खूंखार गुलदार को पिंजरे में किया कैद।

आरिफ खान बिजनौर

नगीना। जनपद बिजनौर के बढ़ापुर थाना क्षेत्र के ग्राम खत्रीवाला में बीती रात्रि घर पर सोते हुए 13 वर्षीय बालक जिगर सक्सेना पुत्र पदम सिंह को गुलदार उठाकर गन्ने के खेत में ले गया जहां बालक को गुलदार ने अपना निवाला बना लिया। परिजनों की जब रात्रि में किसी वक्त आंख खुली तो बालक को चारपाई पर नही था। परिजनों ने अंदाजा लगाया शायद गांव में रामलीला देखने गया होगा लेकिन पूरी रात घर पर नहीं पहुंचने पर सुबह 04 बजे परिजन ढूंढने निकले। तब पास के खेत में जाकर परिजनों ने बालक का खाया हुआ शव देखा। जिसको गुलदार ने लगभग आधे से ज्यादा खा लिया था। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। सुबह सवेरे पुलिस व वन विभाग को सूचना दी गई सैकड़ों की संख्या में ग्रामीण भी खेत में जमा हो गए और ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए गुलदार को पकड़ने व पिंजरा लगाने की मांग की।

Related News

एसडीएम नगीना शैलेंद्र कुमार ने घटनास्थल पर पहुंचकर ग्रामीणों को किया शांत।

गुलदार द्वारा 13 वर्षीय बालक को अपना निवाला बनाने की घटना से ग्रामवासियों में वन विभाग बिजनौर के खिलाफ आक्रोश फैल गया तथा बड़ी तादाद में ग्रामीण घटनास्थल पर जमा हो गए तथा वन विभाग के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। एसडीम शैलेंद्र कुमार के द्वारा बालक के परिजनों को मुआवजा दिलाए जाने व साथ ही गुलदार को पकड़ने के लिए पिंजरा लगाए जाने के आश्वासन पर ग्रामीण हुए शांत।

गुलदार को पकड़ने के लिए लगाए गए पिंजरे में गुलदार हुआ कैद।

एक दिन पूर्व घर के आंगन में सो रहे बालक को अपना निवाला बनाने वाला गुलदार वन विभाग के द्वारा लगाए गए पिंजरे में कैद हो गया। 13 साल के बालक की मौत से ग्रामीणों में था वन विभाग के खिलाफ आक्रोश। इसी के चलते ग्रामीणों ने वन विभाग की टीम को सुनाई थी खरी खोटी और परिजनो के लिए की थी मुआवजे की मांग। गुलदार के पिंजरे में कैद होने से ग्रामीणों ने ली राहत की सांस। सूचना मिलते ही पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे बढ़ापुर थाना प्रभारी निरीक्षक सुमित राठी व वन विभाग की टीम ने पकड़े गए गुलदार को सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया। गुलदार को रेस्क्यू करने वाली टीम में रेंजर प्रदीप शर्मा धर्मेंद्र सिंह वन विभाग की टीम शामिल रही।

Please follow and like us:

Related News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *