भाकियू टिकैत गुट ने की किसान पंचायत विद्युत विभाग, बैंकों में फेले भ्रष्टाचार को समाप्त करने की उठाई मांग

इमरान अंसारी बढ़ापुर 
बढ़ापुर। भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट द्वारा त्योपुर बिजली घर पर किसान पंचायत का आयोजन कर तहसील, विद्युत विभाग और बैंकों में व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने के लिए उपजिलाधिकारी नगीना एवं विद्युत विभाग को संबोधित मांग पत्र थाना प्रभारी निरीक्षक बढ़ापुर व एसडीओ विवेक विश्वकर्मा को सौंपे गये तथा शीघ्र ही मांगे पूरी न होने पर बड़े आंदोलन की चेतावनी दी गई।
सोमवार को भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट की स्थानीय त्योपुर स्थित बिजली घर पर एक पंचायत हुई जिसमें बड़ी संख्या में किसान शामिल हुए। किसान पंचायत में किसानों ने बैंकों, तहसील और विद्युत विभाग में किसानों के साथ की जा रही अवैध वसूली की कड़े शब्दों में आलोचना करते हुए एसडीएम नगीना व विद्युत विभाग को संबोधित दो मांग पत्र थाना प्रभारी निरीक्षक कोमल सिंह को सौंपे। उपजिलाधिकारी को संबोधित 09 सूत्रीय मांग पत्र में आवारा पशुओं से किसानों को निजात दिलाने, तहसील में व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त करने, बैंकों में चल रही दलाली खत्म कर, कृषि कार्डों के बनवाने पर किसानों से की जा रही अवैध वसूली को बंद करने, हर घर नल योजना द्वारा गांवों में तोड़ी गई सड़कों को बनवाने, खेतों से  मिट्टी उठाने पर पुलिस द्वारा किसानों को परेशान न करने, गन्ने की कीमत 450 रुपये प्रति कुंतल किए जाने, खाद की कमी न होने, ग्राम अलाउद्दीनपुर में हुई चकबंदी का भू राजस्व रिकॉर्ड ऑनलाइन करने व त्य्योपुर से जर्जर मार्ग गोपीवाला, काशीवाला तक बनवाए जाने की मांग की गई। इसके अतिरिक्त 06 सूत्रीय मांग पत्र विद्युत विभाग को भी दिया गया। जिसमें क्षेत्र के जर्जर खंभे और तारों को बदलने, मीटर लगवाने व फाल्ट ठीक करने के नाम पर की जा रही अवैध वसूली बंद करने, बिजली बिल पर छूट की सीमा बढ़ाकर मार्च 2024 करने, नए घरेलू कलेक्शन प्रक्रिया आसान बनाने व अवैध वसूली बंद करने तथा गुलदारों के आतंक के मद्देनजर विद्युत आपूर्ति शेड्यूल में बदलाव कर रात की जगह दिन में अधिक आपूर्ति किए जाने की मांग की गई तथा मांगें पूरी न होने पर शीघ्र ही बड़े आंदोलन की चेतावनी दी गई।
राम सिंह की अध्यक्षता तथा राजीव चौहान के संचालन में संपन्न हुई पंचायत में गुरमीत सिंह उर्फ सोनू विरक, उमेश चंद्र शर्मा, वीर सिंह डबास, पुखराज सिंह, सतीश चौहान, शाहबाज आलम, शाहिद मंसूरी, निपेंद्र सिंह, वजाउल कमर, गुरमीत सिंह, विक्रम सिंह, रेशम सिंह, अजमेर सिंह, दलबीर सिंह, अयूब, मोहम्मद नासिर, हरबंशा, नेमीशरण, आशा सिंह आदि सैकड़ों किसान सम्मिलित हुए।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *