मदरसा जामिया अरबिया रशीदिया नगीना में बुखारी शरीफ का समापन।

बिजनौर/नगीना। बुधवार की दोपहर को जामिया अरबिया रशीदिया नगीना में एक बैठक का आयोजन किया गया जिसकी अध्यक्षता हजरत मौलाना मुहम्मद शौकत साहब अफजलगढ़ ने की। निज़ामत मौलाना हिफजुल रहमान ने जबकि तिलावत क़ारी दानिश साहब ने की हाफ़िज़ मुहम्मद ज़ैद ने नात पाक पढ़कर बैठक का आगाज़ किया।

वहीं जामिया के छात्र अब्दुल कादिर, मुहम्मद कामरान, मुहम्मद एहतशाम, मुहम्मद साकिब, मोहम्मद आलमगीर, मुहम्मद जैद, मुहम्मद तालिब, मुहम्मद आजम, मुहम्मद अल कैफ, मुहम्मद, अफ्फान  आदि ने तकरीर पेश कर दर्शकों का मन मोह लिया, मुफ्ती कफील अहमद मज़ाहिरी ने तराना पढ़ने से पहले जामिया के संक्षिप्त इतिहास पर प्रकाश डाला और कहा कि जामिया अरबिया रशीदिया बिजनौर जिले की एकमात्र संस्था है जिसमें 38 वर्षों से बुखारी शरीफ पढ़ाया जा रहा है और इस वर्ष भी 11 छात्र विद्वान बने हैं।

बैठक में विशिष्ट अतिथि के रूप में आये दारुल उलूम देवबंद के हदीस के उस्ताद मौलाना सलमान साहब बिजनौरी ने छात्रों को बुखारी शरीफ का आखिरी पाठ पढ़ाते हुए कहा कि अल्लाह की किताब के बाद अगर कोई किताब प्रामाणिक है. यह बुखारी शरीफ है। ध्यान आकर्षित किया और कहा कि कुरान और हदीस दोनों का पालन करना चाहिए। सही रास्ते पर चलने के लिए दोनों जरूरी हैं।

बैठक में मेमन सादात से आए मौलाना कलीम -उल- जमा ने विस्तार से बात करते हुए कहा कि मदरसे इस्लाम धर्म के किले हैं और इनकी सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है.

अंत में मौलाना सलमान साहब बिजनौरी ने मुहम्मद आरिफ, मुहम्मद हैदर, मुहम्मद आज़म, मुहम्मद अज़हर, शेख जाबेर, मुशर्रफ अहमद, इशाक खान, अब्दुल नूर, मुहम्मद मुशर्रफ, सईद शाह और अफ़ज़ल शाह को बुखारी का अंतिम पाठ पढ़ाया और उन्हें सम्मानित किया।

दस्तर फ़ज़ीलत के मौके पर मुफ्ती मुहम्मद अरशद, हाफिज रफीक अहमद, कारी इस्लामुद्दीन, मौलवी अब्बास, मौलवी तय्यब, डॉ. इसरार, सूफी मुहम्मद शाहिद, मुफ्ती शाहिद, मुफ्ती महफूज, मुफ्ती सुफियान, मुफ्ती शादाब, मुफ्ती अजीम, मुफ्ती कफील अहमद, मुफ्ती नबील अहमद, मौलवी वकील .अहमद आदि बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए….

अंत में मौलाना डॉ. खालिक अहमद साहब कासमी मोहतमिम मदरसा जामिया अरबिया रशीदिया नगीना ने सभी मेहमानों का शुक्रिया अदा किया।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *