निर्यातक जिले में कृषि उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने में अपना योगदान उपलब्ध कराए। जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल।

स्थानीय कृषकों को प्रशिक्षित करें ताकि किसान विदेशी मांग के अनुसार अपने उत्पाद तैयार कर सकें।

बिजनौर। जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित महात्मा विदुर सभागार में कृषि निर्यात प्रोत्साहन योजना के सम्बन्ध में बैठक आयोजित हुई। जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने जिले में कृषि निर्यात को बढ़ावा देने के उद्देश्य से उपस्थित निर्यातकों का आहवान करते हुए कहा कि जिले में कृषि उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने में अपना योगदान उपलब्ध कराएं और जरूरत के अनुसार स्थानीय कृषकों को प्रशिक्षित करें ताकि किसान विदेशी मांग के अनुसार अपने उत्पाद तैयार कर सकें। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि स्थानीय किसानों को कलस्टर बनाने के लिए प्रेरित करें और सामुहिक रूप से निर्यात करने का प्रयास करें। उन्होंने जिले में किसानों के उत्पादों के लिए अच्छा बाजार उपलब्ध कराने के लिए भी कृषि विभाग के अधिकारियों को इंगित किया। बैठक में कृषि निदेशक गिरीश चन्द द्वारा अवगत कराया गया कि उत्तर प्रदेश सरकार के शासनादेश के अनुपालन में कृषि विपणन एवं विदेश व्यापार विषय उत्तर प्रदेश के विशिष्ट कृषि एवं प्रसंस्कृत कृषि उत्पादों का भौगोलिक उपदर्शन पंजीयन के संबंध में प्रस्तर 3.2 के अनुसार उत्तर प्रदेश कृषि निर्यात नीति 2019 के अन्तर्गत गठित क्लस्टर सुविधा इकाई ही भौगोलिक उपदर्शन प्रोत्साहन कार्यों के अनुश्रवण के लिये जिला स्तरीय समिति के रूप में संचालित है, जिसमें दो अतिरिक्त सदस्य यथा एक जीआई एक्सपर्ट एवं जिले की मण्डी के सचिव को समिति का सदस्य के रूप में शामिल किया गया है।

उन्होंने यह भी बताया कि उक्त निर्देशों के क्रम मे जिलाधिकारी बिजनौर के अनुमोदन पर ज्येष्ठ कृषि विपणन निरीक्षक, बिजनौर के द्वारा जीआई समिति का गठन एवं जिला क्लस्टर सुविधा इकाई का गठन किया गया है, जिसके परिपालन में कृषि निर्यात को बढ़ाकर वर्ष 2024 तक दोगुणा करने के उद्देश्य से कृषि विपणन एवं कृषि विदेश व्यापार निदेशालय, उप्र को नोडल एजेन्सी के रूप में नामित किया गया है, जिस के लिए जिला स्तर पर क्लस्टर सुविधा इकाई का गठन करते हुए प्रदेश में नीति के क्रियान्वयन का संस्थागत ढांचा स्थापित किया गया है। इस अवसर पर जिला कृषि अधिकारी जसवीर सिंह तेवतिया, कृषि विभाग के अन्य अधिकारी, निर्यातक, प्रगतिशील किसान मौजूद रहे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *