गोविंद हत्याकांड एसपी ने थाना प्रभारी बढ़ापुर सुमित राठी, उपनिरीक्षक यासीन व एक सिपाही को किया निलंबित।

 

 

बिजनौर/बढ़ापुर। जनपद बिजनौर के थाना बढ़ापुर क्षेत्रान्तर्गत गांव कुआं खेड़ा खदरी में (मेढ़) पर लगे यूकेलिप्टिस के पेड़ों को काटने को लेकर मारपीट/फायरिंग की घटना में एक व्यक्ति की मौत हो जाने व तीन लोगों के घायल होने की सूचना से पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया था।

जिले के आला अधिकारियों के साथ ही मुरादाबाद डीआईजी मुनिराज जी ने भी घटना का निरीक्षण कर अधिकारियों को आरोपियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया था। बिजनौर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजने के साथ ही अग्रिम कानूनी कार्रवाई शुरू कर दी थी।

अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण की जांच में दोषी पाए गए थानाध्यक्ष बढ़ापुर।

जमीनी विवाद को लेकर एक युवक की हत्या व तीन लोगों के घायल होने के प्रकरण में अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राम अर्ज द्वारा की गयी प्रारंभिक जांच में भूमि विवाद से संबंधित प्रकरण का समय से निस्तारण न करने के संबंध में उपनिरीक्षक सुमित राठी थानाध्यक्ष बढ़ापुर, उपनिरीक्षक यासीन व सिपाही कृष्ण कुमार की लापरवाही पायी गयी। जबकि 17 अक्टूबर 2023 को पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन द्वारा भूमि विवाद का समाधान करने के संबंध में एक विस्तृत एसओपी (टास्क आर्डर-14) जारी किया गया था। थाना प्रभारी बढ़ापुर, सुमित राठी, हल्का प्रभारी, यासीन व बीट आरक्षी कृष्ण कुमार द्वारा भूमि विवाद के निस्तारण न करने तथा इसको लेकर थाना बढ़ापुर क्षेत्रान्तर्गत हुई घटना के संबंध में उक्त पुलिसकर्मियों द्वारा अपने कर्तव्यों के प्रति बरती गई लापरवाही के संबंध में एसपी ने तत्काल प्रभाव से तीनों को निलंबित करते हुए। इस संबंध में जांच अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी धर्म सिंह मार्छल को देते हुए 07 दिन में जांच पूर्ण कर रिपोर्ट सौंपने के लिए निर्देशित किया।

एसपी ने पुलिस अधिकारियों कर्मचारियों को अपने कर्तव्य के प्रति सजक रहने के दिये निर्देश।

उधर पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के साथ ही जनपद में तैनात समस्त पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शासन एवं उच्चाधिकारियों द्वारा दिये गये निर्देशों एवं पुलिस अधीक्षक बिजनौर द्वारा जारी किये गये टास्क आर्डर में निर्देशों का पूर्णतः पालन करे। कोई भी पुलिसकर्मी अपने कर्तव्यों/दायित्वों में लापरवाही/शिथिलता न बरते अन्यथा संबंधित के विरूद्ध कड़ी दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *