संप्रदायिक भावना को भड़काने वाले असामाजिक तत्वों की सूचना प्रशासन को दे, होगी कठोर कार्रवाई। अंकित अग्रवाल

बिजनौर। जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने सभी धर्मगुरूओं एवं संभ्रांत लोगों का आहवान किया कि यदि उनके संज्ञान में कानून व्यवस्था की स्थिति को प्रभावित करने अथवा संप्रदायिक भावना को भड़काने संबंधी कोई सूचना प्राप्त होती है। तो स्वयं हस्तक्षेप न करते हुए तत्काल प्रशासन को सूचित करें ताकि तत्काल सक्षम अधिकारियों को मौके पर भेजकर समस्या का समाधान किया जा सके। उन्होंने प्रतिबद्वता व्यक्त करते हुए कहा कि जिला प्रशासन होली, रमजान, ईद उल फितर सहित सभी त्यौहारों को पूर्ण सौहार्द, परम्परागत और शांतिपूर्वक रूप से सम्पन्न कराने के लिए कटिबद्व है। उन्होंने जन सामान्य का आवाहन किया कि किसी भी अवस्था में ऐसा कोई कार्य न करें जो अपरम्परागत हो या जिससे साम्प्रदायिक वातावरण अथवा शांति एवं कानून व्यवस्था प्रभावित हो सके।
जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल कलेक्ट्रेट सभागार में होली, रमजान, ईद उल फितर आदि त्यौहारों को सकुशल संपन्न कराने के दृष्टिगत बैठक व त्यौहार पर आवश्यक व्यवस्थायें किये जाने एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने की तैयारी के संबंध में आयोजित बैठक में सभी धर्मों के धर्म गुरूओं, संभ्रांत नागरिकों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए प्रशासनिक एंव पुलिस अधिकारियों को होली एवं ईदुल फितर के पावन पर्व को शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए निर्देश दे रहे थे।
इस अवसर पर जिलाधिकारी एवं पुलिस अधिक्षक ने जिले के विभिन्न धर्मों के धर्म गुरुओं के साथ आगामी त्यौहार होली, रमजान ईद उल फितर को सौहार्दपूर्ण एवं शान्तिपूर्वक एवं भाईचारे के साथ मनाने के लिए विस्तार से थानावार चर्चा की तथा होली त्यौहार में जिले के विभिन्न स्थानों पर होने वाले जूलूस के बारे में जानकारी की गयी तथा रमजान, ईद उल फितर के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की और निर्देश दिए कि सभी लोग अपने धार्मिक रीति-रिवाज से एक-दूसरे का सम्मान करते हुए अपने त्यौहार सौहार्दपूर्ण वातावरण में मनाएं।
जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने आश्वस्त करते हुए कहा कि जिला प्रशासन ने सौहार्दपूर्ण और शांतिपूर्ण वातावरण में होली एवं ईदुल फितर त्यौहार को सम्पन्न कराने के लिए पूर्व की तरह सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। उन्होंने अपेक्षा करते हुए कहा कि ये पावन त्यौहार पूर्ण संयम, समन्वय एवं आम नागरिकों की भावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए मनाया जाएंगे और ऐसा कोई भी कार्य नहीं किया जाएगा, जिससे दूसरे सम्प्रदायों की भावनाओं को ठेस पहुंचे। उन्होंने जानकारी देेते हुए बताया कि सभी नगर पालिका एवं नगर पंचायतों को विशेष सफाई, प्रकाश एवं पानी की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये गए हैं। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि जिले में साम्प्रदायिक सौहार्द के वातावरण को कायम रखने के लिए जिला प्रशासन प्रतिबद्ध है। उन्होंने सचेत करते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति धार्मिक रूप से कोई अपशब्द, भड़काऊ भाषण अथवा धार्मिक उन्माद फैलाने जैसे किसी भी कार्य का दुस्साहस न करे और न ही सोशल मीडिया आदि पर किसी भी प्रकार की आपत्तिजनक टिप्पणी या पोस्ट की जाए, जिससे शांति एंव कानून व्यवस्था की स्थिति पर कोई आंच आए। उन्होंने सचेत करते हुए कहा कि जिले में शांति एंव कानून व्यवस्था की स्थिति से खिलवाड़ करने वाले शरारती एवं असामाजिक तत्वों पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन ने सभी क्षेत्राधिकारी पुलिस एवं थानाध्यक्षों को निर्देश दिए कि त्यौहार रजिस्टर का गहनता के साथ अध्यन करलें और किसी भी नई परम्परा को न होने दें तथा जिन रास्तों पर धार्मिक स्थल मौजूद हैं और उनमें ईद की नमाज अदा की जाएगी, वहां पर विशेष सतर्कता और सजगता रखी जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि प्रत्येक तहसील एंव थाना स्तर पर अमन कमेटियों की मीटिंग आयोजित कर जन सामान्य को पूर्ण साम्प्रदायिक सौहार्द के साथ होली एवं ईदुल फितर के त्यौहार को सम्पन्न कराने में सहयोग के लिए आहवान करें। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन विनय कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण राम अर्ज, समस्त उपजिलाधिकारी, सभी संबंधित अधिकारी सहित समस्त थाना प्रभारी व विभिन्न धर्माे के धर्मगुरु एवं संभ्रांत व्यक्ति मौजूद रहे।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *