बिजनौर पुलिस ने राजेश हत्याकांड का 24 घंटे में किया खुलासा।

पुलिस ने राजेश के दो कातिलों को किया गिरफ्तार।

मृतक की पत्नी से प्रेम-प्रसंग के चलते दिया हत्यारों ने वारदात को अंजाम।

तनवीर अंसारी

बिजनौर। शुक्रवार को थाना कोतवाली शहर के जोधूवाला सूखी हुई नहर में एक व्यक्ति का शव मिलने की सूचना से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। क्षेत्राधिकार नगर ने स्थानीय पुलिस, फील्ड यूनिट, डॉग स्क्वॉड के साथ तत्काल मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण करते हुए शव को कब्जे में लेकर मृतक की शिनाख्त कराई। जिसकी शिनाख्त राजेश उम्र 45 वर्ष पुत्र धर्मपाल निवासी नई बस्ती डॉक्टर बंगाली वाली गली बी 14 थाना कोतवाली शहर जनपद बिजनौर के रूप में हुई। मृतक राजेश के भाई प्रमोद कुमार ने अपने भाई की अज्ञात व्यक्ति द्वारा हत्या किये जाने के संबंध में थाना कोतवाली शहर पर मुकदमा अपराध संख्या 1109/23 धारा 302 पंजीकृत कराया।

पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन ने घटना का तत्काल संज्ञान लेते हुए घटना के सफल खुलासे व संलिप्त अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु थाना कोतवाली शहर पुलिस, सर्विलांस टीम को निर्देशित किया। पुलिस की विवेचनात्मक कार्रवाई के दौरान अभियोग में अभियुक्तगण फहीम पुत्र हसीन निवासी मोहल्ला इस्लामाबाद कस्बा झालू थाना हल्दौर जनपद बिजनौर हाल निवासी कांशीराम कॉलोनी रामलीला ग्राउंड के पास थाना कोतवाली शहर जनपद बिजनौर, 2. सुरेश पुत्र सीताराम निवासी नवादा थाना हल्दौर जनपद बिजनौर हाल निवासी कुटिया कॉलोनी थाना कोतवाली शहर जनपद बिजनौर का नाम प्रकाश में आया। पुलिस पुलिस द्वारा अभियोग में धारा 201/34 की वृद्धि की गई।
उधर पुलिस अधीक्षक नीरज कुमार जादौन के द्वारा घटना के खुलासे के लिये थाना कोतवाली शहर पुलिस एवं स्वाट सर्विलांस टीम को दिए गए निर्देशों के क्रम में घटना के 24 घंटे के अंदर हत्या का सफल अनावरण करते हुए 4.11.2023 को घटना में संलिप्त अभियुक्त फहीम व सुरेश को गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्तों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त गमछा, मृतक का मोबाइल फोन बरामद किया गया। पुलिस ने बताया कि घटना में मृतक की पत्नी के संलिप्त होने के संबंध में गहनता से विवेचना की जा रही है।

पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में फईम ने बताया कि मैं राजेश के मकान में कई दिनों तक पुताई का कार्य किया था। इसी दौरान मेरे राजेश की पत्नी के साथ प्रेम प्रसंग हो गया। जिसका पता राजेश को लग गया। राजेश ने मेरे ऊपर अपने घर आने-जाने पर पाबंदी भी लगा दी थी। इसी कारण मैंने राजेश को रास्ते से हटाने के लिए राजेश की पत्नी व अपने साथी सुरेश के साथ मिलकर राजेश की हत्या करने की योजना बनाई थी। दिनांक 2/11/2023 दोपहर में सुरेश ने राजेश को फोन करके नवादा के जंगल में स्थित अपनी ट्यूबवेल पर बुला लिया। जहां पर मैने व सुरेश ने मिलकर गमछा से गला घोटकर राजेश की हत्या कर दी तथा अंधेरा होने पर राजेश की मोटरसाइकिल से राजेश के शव को जोधूवाला रोड पर सूखी हुई नहर में ले जाकर डाल दिया और राजेश की मोटरसाइकिल नहर किनारे डालकर वहां से भाग गए थे।

राजेश कश्यप हत्याकांड का खुलासा करने वाली टीम में।
प्रभारी निरीक्षक राजीव चौधरी कोतवाली शहर, वरिष्ठ उपनिरीक्षक योगेंद्र सिंह, उपनिरीक्षक तेजपाल सिंह, प्रभारी सर्विलांस टीम, कांस्टेबल विजय, विशाल,
उपनिरीक्षक शौकत अली, हेड कॉन्स्टेबल राजकुमार नागर स्वर टीम, मोहित कुमार, हरेंद्र कुमार, अनिल कुमार, दीपक चावला, विशाल चिकारा शामिल रहे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *