प्रधानमंत्री उज्जवला योजना निःशुल्क गैस सिलेंडर पाकर खिले ग्रहणियों के चेहरे।

एक सौ बीस लाभार्थियों को वितरित किये गए निःशुल्क गैस सिलेंडर।

योजना से जिले के कुल 309713 लाभार्थी होंगे लाभान्वित।

बिजनौर। जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में वर्चुअल माध्यम से मुख्यमंत्री के द्वारा लोकभवन लखनऊ से उज्जवला योजना अन्तर्गत निःशुल्क गैस सिलेण्डर वितरण कार्यक्रम का सजीव प्रसारण सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज मुख्यमंत्री के द्वारा एक बड़ी योजना का शुभारम्भ किया गया है, जो केन्द्र सरकार के द्वारा संचालित है। उन्होंने कहा कि उज्जवला योजना के अन्तर्गत जितने भी लाभार्थी हैं, उनको दो गैस सिलेण्डर प्रदेश सरकार द्वारा निःशुल्क दिये जाएगें जिसमें एक गैस सिलेण्डर आज दीपावली के अवसर पर दिया जा रहा है तथा दूसरा गैस सिलेण्डर मार्च तक लाभार्थियों को उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने लाभार्थियों का आहवान करते हुए कहा कि सभी लाभार्थी गैस सिलेंडर की बुकिंग गैस एजेंसियों के माध्यम से ही कराएं और केवल 14.2 किग्रा0 वाला गैस सिलेंडर ही प्राप्त करें। उन्होंने सभी लाभार्थियों से कहा कि योजना का लाभ लेने के लिए सभी को अपने आधार की सीडिंग करना आवश्यक है। अन्यथा लाभार्थी के खाते में सब्सिडी की धनराशि नहीं पहुंचेगी। उन्होंने सभी गैस एजेंसियों को निर्देश दिए कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना से आच्छादित सभी लाभार्थियों का शत प्रतिशत आधार सीडिंग करना तथा सरकार द्वारा संचालित निःशुल्क गैस सिलेंडर योजना का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करना सुनिश्चित करें जिससे अधिक से अधिक पात्र व्यक्ति इस योजना से लाभान्वित हो सकें।


जिला पूर्ति अधिकारी अभय प्रताप सिंह ने बताया कि जिले के कुल 309713 उज्जवला गैस कनैक्शनों में से ऑयल कंपनियों द्वारा 2,80,516 लाभार्थियों को केन्द्रीय सब्सिडी का भुगतान आधार कैश ट्रान्सफर कम्प्लाइन्ट के माध्यम से आधार लिंक खातें में कराया जा रहा है, जिनमें आईओसी 1,52,489, बीपीसी 1,21,245 व एचपीसी 35,979 के लाभार्थी है तथा बैंक कैश ट्रांसफर कम्प्लाइन्ट के माध्यम से 2,80,516 लाभार्थियों को, जिनमें आईओसी 1,51,539 बीपीसी 99,282 व एचपीसी 29,686 के लाभार्थी है। उन्होंने बताया कि उज्जवला कनैक्शनों को गैस एजेन्सी एवं लाभार्थी के बैंक खातों की आधार सीडिंग करायी जा रही है, जिससे समस्त सब्सिडी के माध्यम से आधार लिंक खातों में पहुंच सके। उन्होंने बताया कि अब तक कुल 10,230 बैंक खातों को आधार में परिवर्तित कराया जा चुका है, जिनमें आईओसी के 332, बीपीसी के 7689 तथा एचपीसी के 2209 बैंक खाते है। उन्होंने बताया कि जिले में आईओसी की 33, बीपीसी की 17 व एचपीसी की 12 कुल 62 गैस एजेन्सियां कार्यरत है। गैस एजेन्सियों द्वारा कर्मचारियों की संख्या बढ़ायी गयी है तथा थम्म इम्प्रेशन को स्कैन करने के लिए डिवाइस क्रय की गयी है। हॉकर्स द्वारा लाभार्थियों के घर पर पहुंचकर फार्म भरवाये जा रहे है। कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी द्वारा उज्जवला योजना अन्तर्गत 120 उज्जवला लाभार्थियों को निशुल्क सिलेंडर वितरित किये गये। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन विनय कुमार सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी अभय प्रताप सिंह, उज्जवला योजना के नोडल सहित अन्य संबंधित अधिकारी, गैस एजेंसी के स्वामी तथा लाभार्थी मौजूद रहे।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *