सीओ नगीना देश दीपक सिंह की मेहनत लाई रंग पुलिस कस्टडी से फरार आरोपी, अजीम उर्फ बहरा गिरफ्तार।

बिजनौर/बढ़ापुर। बढ़ापुर पुलिस की लापरवाही व ढुलमुल रवैये के कारण थाने का एक हिस्ट्रीशीटर शातिर अपराधी अज़ीम उर्फ बहरा जो कि आर्म्स एक्ट के मुकदमें का भी आरोपी था। पुलिस की कस्टडी से उस व़क्त फरार हो गया। जब रिमांड मंजूर होने के बाद पुलिस उसे जेल में दाखिल करने बिजनौर ले जा रही थी।
ग़नीमत रही कि पुलिस क्षेत्राधिकारी नगीना देश दीपक सिंह की सक्रियता से शातिर अपराधी अजीम उर्फ बहरा जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में आ गया।
आपकों बता दें थाना बढ़ापुर पुलिस बीते कुछ समय से लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। शनिवार को बढ़ापुर पुलिस की हिरासत से एक हिस्ट्रीशीटर के भाग जाने से एक बार फिर बढ़ापुर पुलिस सुर्खियों में हैं। ऐसा लगता है कि पुलिस अधीक्षक बिजनौर के आदेश बढ़ापुर पुलिस के लिए कोई मायने नही रखतें हैं। हाल ही में अफजलगढ़ थाना क्षेत्र से एक आरोपी पुलिस हिरासत से फरार होने के बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा आदेश जारी किये गए थे कि किसी भी आरोपी को उपनिरीक्षक अपनी हिरासत में जेल तक लेकर जाएंगे। परन्तु शायद बढ़ापुर पुलिस के लिये ऐसे आदेश कोई मायने नही रखते हैं।
शनिवार को बढ़ापुर पुलिस द्वारा थाना क्षेत्र के गांव गंजपूरा निवासी अजीम उर्फ बहरा पुत्र शफीक को एक नाजायज चाकू के साथ नकटा नदी से गिरफ्तार करने का दावा करते हुए सम्बंधित धारा में अभियोग पंजीकृत कर चालान किया था। बताते चलें कि अजीम उर्फ बहरा पर थाना बढ़ापुर पर करीब आधा दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं। साथ ही थाना बढ़ापुर पर अजीम उर्फ बहरा के खिलाफ थाना बढ़ापुर पर हिस्ट्रीशीट भी खुली हुई है, जिसका नं 68A है। अजीम के खिलाफ गौकशी, गैंगस्टर, चोरी, आर्म्स एक्ट के कई मुकदमे भी दर्ज है।
उपनिरीक्षक प्रमोद कुमार की भूमिका पर भी उठ रहे सवाल।
शनिवार को थाना बढ़ापुर पर तैनात वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रमोद कुमार न्यायालय नगीना से अजीम की रिमांड के लिये गये थे। वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रमोद कुमार ने नगीना से ही वापसी कर ली तथा थाना बढ़ापुर जीडी में भी अपनी वापसी दर्ज करा डाली। जबकि एक हिस्ट्रीशीटर शातिर अपराधी को जेल तक ले जाना भी गंवारा नही समझा। जिस कारण मुख्य आरक्षी इशहाक व पीआरडी का जवान पीतम शातिर अपराधी अजीम को बिजनौर जेल ले जाने लगे। जब रोडवेज बस स्टैंड पर अजीम को रिक्शा से उतार कर दोनों लोग रिक्शा वाले को पैसे दे रहे थे। उसी समय हथकड़ी से अपना हाथ निकाल कर मौके से फरार हो गया।
सूचना पर मौके पर पहुंचे ईमानदार, तेजतर्रार पुलिस क्षेत्राधिकारी नगीना देश दीपक सिंह ने सर्च ऑपरेशन चलाने के बाद पुलिस टीम के साथ फरार हिस्ट्रीशीटर शातिर अपराधी अजीम उर्फ बहरा को आखिरकार गिरफ्तार कर ही लिया।
उधर मुख्य आरक्षी मोहम्मद इशहाक और पीआरडी जवान पीतम सिंह के विरुद्ध थाना बढ़ापुर पर ड्यूटी में लापरवाही बरतने के आरोप में कानूनी कार्रवाई की जा रही है।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *